Skip to content

बीएड में कितने सब्जेक्ट होते है – B.Ed Subjects List in Hindi

अगर आप जानना चाहते है कि बीएड में कितने सब्जेक्ट होते है, b.ed में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं, और बीएड में कितने सब्जेक्ट लेने होते है तो आपके इन सभी सवालों का जवाब यहाँ दिया गया है। इस आर्टिकल से आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स वर्ग के सभी विद्यार्थी अपने लिए B.Ed Subjects List in Hindi को जान सकते है।

Bachelor of Education यानि B.Ed शिक्षक बनने के लिए किया जाने वाला एक योग्यता कोर्स है। इस कोर्स को करने पर अभ्यर्थी प्राथमिक (कक्षा 01-05), उच्च प्राथमिक (कक्षा 6-8), माध्यमिक स्तर (कक्षा 9-10) और वरिष्ठ माध्यमिक स्तर (कक्षा 11-12) तक शिक्षक की नौकरी हेतु आवेदन कर सकता है।

बीएड एक दो वर्षीय कोर्स है। इस कोर्स को भारत के हर राज्य में अनेकों यूनिवर्सिटी और कॉलेजों द्वारा संचालित किया जाता है। कोर्स में एडमिशन प्रवेश परीक्षा के माध्यम से मिलता है और इसमें सीटों की संख्या लिमिट होती है। विद्यार्थी बीएड फर्स्ट ईयर और बीएड सेकंड ईयर के subjects के बारे में यहाँ डीटेल से जान सकते है।

Contents

बीएड में कितने सब्जेक्ट होते है

बीएड में कितने सब्जेक्ट होते है

बीएड में सामान्यत: 9-10 सब्जेक्ट होते है। इनमें से 02 टीचिंग सब्जेक्ट होते है और बाकी के विषय कॉलेज/यूनिवर्सिटी द्वारा निर्धारित कोर्स के पाठ्यक्रम के अनुसार अनिवार्य होते है।

विद्यार्थी को बीएड में एडमिशन के समय अपने graduation के विषयानुसार दो टीचिंग सब्जेक्ट का चयन करना होता है। अन्य विषय यूनिवर्सिटी द्वारा सभी वर्ग (stream) के लिए विद्यार्थियों के लिए करीबन समान होते है।

बीएड करने के दौरान अभ्यर्थी को फर्स्ट एवं सेकंड ईयर में टीचिंग subjects के अलावा मुख्य रूप से शिक्षा, संस्कृति और मानवमूल्य, शैक्षणिक मनोविज्ञान, शैक्षणिक मूल्यांकन, शिक्षा दर्शन के बारे में पढ़ाया जाता है और यही सब्जेक्ट होते है।

इन सब्जेक्ट के अलावा बीएड के दौरान विद्यार्थी को हर साल प्रैक्टिकल और इंटर्नशिप भी देनी होती है। इसमें विद्यार्थी अपनी सीखी हुई बातों को अप्लाई करता है और live क्लास में जाकर अन्य शिक्षण विधियों को सीखता है।

B Ed कितने सब्जेक्ट से किया जाता है

B Ed को मुख्यत: दो teaching subject और सात-आठ अन्य सब्जेक्ट से किया जाता है। इसके साथ ही बीएड में प्रैक्टिकल और स्कूल इंटर्नशिप भी होती है।

विद्यार्थी को बीएड में कम से कम दो टीचिंग सब्जेक्ट को लेना होता है लेकिन विद्यार्थी चाहे तो अधिकतम चार सब्जेक्ट को टीचिंग सब्जेक्ट के रूप में ले सकता है।

B Ed कौन से सब्जेक्ट से करना चाहिए

B Ed कौन से सब्जेक्ट से करना चाहिए- इस सवाल का जवाब आपके graduation की डिग्री में है क्योंकि जिस स्ट्रीम के साथ विद्यार्थी ने graduation किया है, उन्हीं सब्जेक्ट से बीएड किया जा सकता है।

यदि किसी विद्यार्थी ने आर्ट्स से graduation किया है यानि बीए कोर्स किया है तो उसके बीएड के सब्जेक्ट बीए में जो विषय (subject) थे, उनके आधार पर मिलेंगे या सलेक्ट किए जाएंगे।

बीएससी करने वाला अभ्यर्थी बीएड में सिर्फ वही सब्जेक्ट चुन सकता है जो उसके B.Sc यानि graduation में थे। यही बात कॉमर्स वर्ग के विद्यार्थी पर लागू होती है।

सामान्यत: बीए (B.A.) करने वाले विद्यार्थियों के पास बीएड में सब्जेक्ट ज्यादा उपलब्ध होते है क्योंकि आर्ट्स में ढेर सारे सब्जेक्ट होते है और उनमें से अधिकांश बीएड में पढ़ाए जाते है।

यह भी जानें- BSc में कितने विषय होते है

b.ed subjects list in Hindi

साइंस, आर्ट्स और कॉमर्स के विद्यार्थियों को बीएड में आगे दिए subjects में से अपनी स्ट्रीम के अनुसार कोई दो सब्जेक्ट को टीचिंग सब्जेक्ट के रूप में लेना पड़ता है।

b ed subjects list arts:

  • Hindi
  • Sanskrit
  • English
  • Urdu
  • History
  • Economics
  • Civics
  • Geography
  • Social Studies
  • Drawing and Panting
  • Music

b ed subjects list for science group (b.ed subjects for BSc students):

  • Mathematics
  • Physics
  • Chemistry
  • Biology
  • Geography

b.ed subjects for commerce students:

  • Commerce Practice
  • Book Keep and Accounting

यह भी पढ़ें- बीकॉम में कितने सब्जेक्ट होते है

BEd 1st Year Subject List

BEd 1st Year के Subjects के name नीचे दिए है:

  • Childhood and Growing up
  • Contemporary India and Education 
  • Learning and Teaching
  • Language across the Curriculum
  • Understanding Disciplines and Subject 
  • Gender, School and Society
  • Pedagogy of a School Subject Part- 1
  • EPC-1 Reading and Reflection on Texts
  • EPC-2 Drama and Art in Education
  • EPC-3 Critical Understanding of ICT

सिमेस्टर सिस्टम के तहत बीएड करने वाले विद्यार्थियों के लिए फर्स्ट ईयर के फर्स्ट सिमेस्टर और सेकंड सिमेस्टर में निम्न subjects होते है:

Semester 1Semester 2
Childhood And Growing UpAssessment for Learning
Critical Understanding of ICTCreating An Inclusive School
Department of Elective 1Department of Elective 3
Department of Elective 2Department of Elective 4
Drama And Art In EducationDepartment of Elective 5
Gender School And SocietyDepartment of Elective 6
Learning And TeachingInternship
Learning And Teaching- PracticalLanguage Across the curriculum

BEd 2nd Year Subject Names

BEd 2nd Year की Subject List नीचे दी है:

  • Pedagogy of School Subject 
  • Knowledge and Curriculum
  • Gender school and society
  • Assessment for Learning
  • Creating an Inclusive School
  • EPC-4 Understanding the Self.

Semester सिस्टम के तहत बीएड करने वाले विद्यार्थियों के लिए सेकंड ईयर में थर्ड सिमेस्टर और फोर्थ सिमेस्टर में निम्न subjects होते है:

Semester 3Semester 4
Contemporary India And Education
Current Affairs
Learning Resource ProjectDepartment of Elective 7
Service LearningKnowledge And Curriculum
Field InternshipReasoning Ability
Understanding Disciplines And Subjects
Understanding the Self
Workshop on Life Skills
Workshop on School Management

B.Ed में कितने सेमेस्टर होते हैं

बीएड दो साल का कोर्स होता है और इसमें कुल 04 सेमेस्टर होते है। B.Ed में हर साल दो semester होते है और प्रत्येक सेमेस्टर छ महीने का होता है।

प्रत्येक semester के समाप्त होने पर विद्यार्थियों की परीक्षा होती है और इसके बाद अगले सेमेस्टर में एडमिशन होता है। इस प्रकार सेमेस्टर सिस्टम के द्वारा बीएड करने वाले विद्यार्थियों को साल में दो बार परीक्षाएं देनी होती है और कोर्स की अवधि के दौरान कुल चार प्रकार परीक्षाएं आयोजित होती है।

जो विद्यार्थी annual मोड में BEd करते है, उनकी साल में सिर्फ एक बार परीक्षाएं होती है और इस प्रकार बीएड कोर्स की सम्पूर्ण अवधि के दौरान उनके सिर्फ दो बार परीक्षाएं ली जाती है।


सामान्यत: बीएड के कोर्स में सब्जेक्ट का वर्गीकरण आर्टिकल में बताए अनुसार होता है। कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी में बीएड में इससे अलग भी सब्जेक्ट और पाठ्यक्रम देखने को मिल सकता है लेकिन सभी का उद्धेश्य विद्यार्थी को शिक्षक बनने के लिए चीजों को सिखाना और योग्य बनाना होता है।

उम्मीद करते है कि बीएड सब्जेक्ट्स लिस्ट का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। यदि किसी विद्यार्थी के बीएड फर्स्ट या सेकंड ईयर से जुड़ा कोई प्रश्न है तो कमेन्ट के माध्यम से पूछ सकता है।

FAQs

B.Ed में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

B.Ed में learning and teaching, education, disciplins, और आर्ट्स/साइंस/कॉमर्स वर्ग के सब्जेक्ट होते हैं।

बी एड में कितने सब्जेक्ट लेने होते हैं

बी एड में विद्यार्थी को teaching subject के लिए अपनी stream के अनुसार कम से कम 02 सब्जेक्ट लेने होते हैं और अन्य सब्जेक्ट यूनिवर्सिटी के निर्धारित पाठ्यक्रम के अनुसार अनिवार्य होते है।

B ED के फर्स्ट ईयर में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

B ED के फर्स्ट ईयर में childhood & Growing up, Contemporary India & Education, Learning & Teaching
Language, Understanding Disciplines & Subject, Gender School & Society समेत कई अन्य सब्जेक्ट होते है।

b.ed सेकंड ईयर में कितने सब्जेक्ट होते हैं

b.ed सेकंड ईयर में दो टीचिंग सब्जेक्ट और अन्य compulsry सब्जेक्ट होते है।

5 thoughts on “बीएड में कितने सब्जेक्ट होते है – B.Ed Subjects List in Hindi”

  1. Sir mera BA hons Urdu hai aur PGT teacher Banna chahta hoon leken B ed teaching subject Hindi aur social study hai ,mera Bed degree valid hai aur Urdu subject ka teacher ban Sakta hon pls reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हर अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ें