Skip to content

BA Course क्या है और कैसे करें – BA Full Form in Hindi

12th करने के बाद बीए वो कोर्स है जिसमें सबसे ज्यादा एडमिशन होते है लेकिन अधिकतर स्टूडेंट्स को बीए के बारे में पूरी जानकारी नहीं होती है कि BA Course क्या है? इसे कैसे किया जाता है? बीए में कौनसे सब्जेक्ट होते है? इस आर्टिकल (ba in hindi) के द्वारा आप बीए की फुल फॉर्म और इससे जुड़ी other information जान जायेंगे।

इंडिया में हर वर्ष आर्ट्स सब्जेक्ट्स से लाखों विद्यार्थी 10+2 की पढ़ाई करते है। इसके बाद अधिकतर विद्यार्थी बीए की पढ़ाई के लिए कॉलेज का रूख करते है लेकिन कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले हर विद्यार्थी को इस कोर्स के बारे में पूरी जानकारी का बहुत जरूरी है।

BA क्या है – What is ba Course in Hindi

BA Course क्या है

BA स्टूडेंट्स द्वारा graduation करने के लिए किया जाने वाला एक कोर्स है। इस कोर्स की अवधि 3 साल होती है। BA की फुल फॉर्म Bachelor of Arts है। हिंदी में इसे कला वर्ग में स्नातक कहते है। बीए कोर्स को 12th कक्षा पास करने के बाद किया जाता है।

बीए भारत में बाहरवीं पास करने के बाद सबसे अधिक किये जाने वाला undergraduate degree / program है। Social science और Humanities से जुड़े सभी subjects की graduation बैचलर ऑफ़ आर्ट्स कोर्स के अंतर्गत आती है।

BA Course दो प्रकार का होता है; 1) BA Pass Course जिसे सिर्फ BA, BA General या BA Simple कहते है एवं 2) B.A. Honors. (बीए ऑनर्स)। सामान्यत: अधिकतर स्टूडेंट BA Pass Course को करते है। यदि कोई स्टूडेंट UPSC जैसी services में जाना चाहता है तो वो BA Honours करता है क्योंकि इससे स्टूडेंट को किसी एक विषय में ज्यादा जानकारी मिलती है जो इन परीक्षाओं के लिए फायदेमंद होती है।

किसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में B.A. Course में एडमिशन लेने हेतु eligibility criteria (योग्यता) किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12th पास होना या इसके समकक्ष अन्य कोई डिग्री होना है। कुछ यूनिवर्सिटी में इसमें प्रवेश के लिए 12th में minimum 50% का होना जरूरी है।

आर्ट्स के अलावा अन्य streams (science, commerce, agricultural) से 12th करने वाले स्टूडेंट्स भी बैचलर ऑफ़ आर्ट्स (BA) प्रवेश ले सकते है।

BA की परीक्षाएं यानि exams के लिए अलग-अलग इंस्टिट्यूट के अलग-अलग नियम होते है। अधिकतर universities में बीए कोर्स के लिए सेमेस्टर सिस्टम होता है। इसमें बीए के स्टूडेंट्स के लिए एक साल में दो बार परीक्षाएं होती है। इसके अलावा कुछ यूनिवर्सिटी में ba exams वार्षिक यानि annual (साल में एक बार) होता है।

बीए की डिग्री तीन वर्ष में पूरी होती है लेकिन कई यूनिवर्सिटी बीए के साथ एमए भी कराती है तो integrated BA+MA course 4 साल का कोर्स होता है।

एडिशनल बीए क्या होती है: बीए की डिग्री पूरी करने के पश्चात अगर कोई स्टूडेंट आर्ट्स के किसी अन्य अतिरिक्त विषय में स्नातक डिग्री करता है तो उसे एडिशनल बीए कहते है। इसकी अवधि न्यूनतम एक वर्ष से लेकर अधिकतम तीन वर्ष तक हो सकती है। कई यूनिवर्सिटी एवं कॉलेजों में एडिशनल बीए करवाई जाती है।

BA और BA Honours में क्या अंतर है

बीए और ऑनर्स दोनों कोर्स तीन साल के होते है। BA Pass Course और BA Hons. में निम्न अंतर होता है:

BA Pass Course / BA SimpleBA Hons.
इसमें स्टूडेंट किसी particular subject को नहीं पढ़ता हैHons. में स्टूडेंट किसी विशेष सब्जेक्ट को पढ़ते है
इसमें सभी सब्जेक्ट में समान पेपर में होते है।इसमें किसी एक subject में ज्यादा papers होते है
सभी विषयों का Syllabus बराबर होता हैइसका सिलेबस थोड़ा difficult होता है

अगर कोई स्टूडेंट B.A कर रहा है तो उसे लगभग 5 subjects पढ़ने होंगे जैसे इतिहास, राजनीति विज्ञान, भूगोल, हिंदी और इंग्लिश इत्यादि जबकि अगर कोई BA Hons. कर रहा है तो इसमें एक सब्जेक्ट main subject होता है। इसमें किसी एक विषय के बारे में ज्यादा पढ़ना होता है। इस एक सब्जेक्ट के पेपर भी ज्यादा होते है।

माना किसी स्टूडेंट के ba honours में History सब्जेक्ट है तो उसे history के बारे में ज्यादा पढ़ाया जाएगा। इसके साथ दो अन्य subsidiary subject होते है जिन्हें सिर्फ दो साल पढ़ना होता है। फाइनल ईयर में सिर्फ बीए ऑनर्स सब्जेक्ट के exam होंगे।

BA में एडमिशन कैसे लें, बीए कैसे करें

बीए कोर्स को करने के लिए भारत के हर राज्य में कई यूनिवर्सिटी है और उन यूनिवर्सिटी से लाखों कॉलेज एफिलिएटेड है। इनमें से किसी भी कॉलेज जो बैचलर ऑफ़ आर्ट्स की डिग्री प्रदान करती है, से बीए किया जा सकता है।

BA में एडमिशन लेने के लिए सभी यूनिवर्सिटी के अलग-अलग नियम है। कई टॉप यूनिवर्सिटी बीए कोर्स में एडमिशन हेतु एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करती है तो कई यूनिवर्सिटी में 12th क्लास के मार्क्स यानि मेरिट के आधार पर प्रवेश किया जाता है।

अगर किसी स्टूडेंट के 12th क्लास में बहुत अच्छे अंक है तो स्टेट की या देश की टॉप यूनिवर्सिटी / कॉलेज से बीए कर सकता है जबकि एवरेज स्टूडेंट्स (मार्क्स के आधार पर) अन्य यूनिवर्सिटी या कॉलेज से बीए में एडमिशन ले सकते है।

इसके अलावा स्टूडेंट्स के पास एक और ऑप्शन होता है कि घर बैठे ओपन यूनिवर्सिटी से भी बीए कर सकते है। इसमें स्टूडेंट्स को कॉलेज नहीं जाना होता है, सिर्फ exams देने होते है और सेशनल वर्क (प्रोजेक्ट) करना होता है।

लगभग सभी यूनिवर्सिटी द्वारा BA में एडमिशन ऑनलाइन माध्यम से होता है। जैसे किसी स्टूडेंट ने 12th का एग्जाम दिया है और उसे बीए करना है तो वो जिस यूनिवर्सिटी से बीए करना चाहता है, उसकी वेबसाइट पर जाएँ और एडमिशन फॉर्म भर दें। इसके बाद यूनिवर्सिटी द्वारा 4-5 मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। अगर उन मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट का नाम आ जाता है तो वो उस यूनिवर्सिटी से बीए में एडमिशन ले सकता है।

अगर किसी स्टूडेंट का किसी भी मेरिट लिस्ट में नाम नहीं आता है तो प्राइवेट कॉलेज से बीए कर सकता है। इन कॉलेजों में ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों माध्यमों से एडमिशन होते है।

बीए करने के दौरान यानि पहली बार में बीए में admission लेते समय स्टूडेंट्स के मन में यह सवाल आता है कि b.a. में कितने सब्जेक्ट लेने होते हैं क्योंकि स्टूडेंट स्कूल को छोड़कर पहली बार कॉलेज में शिफ्ट हो रहे है और उन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है। स्टूडेंट्स को बता दें कि बीए में 5 subjects लेने होते है। इनमें से 2 सब्जेक्ट Compulsory होते है जबकि 3 core subjects होते है।

Compulsory और Core Subjects दोनों को स्टूडेंट्स अपने इच्छानुसार चुन सकता है। Compulsory subjects के exam सिर्फ फर्स्ट ईयर में होते है। एक बार इन्हें क्लियर करने के बाद स्टूडेंट्स को सिर्फ core subjects के एग्जाम देने पड़ते है। ***

Note: अधिकतर यूनिवर्सिटीज में यही सिस्टम होता है लेकिन कई यूनिवर्सिटी में बीए सब्जेक्ट combination के rules इससे अलग-अलग भी होते है। इसकी जानकारी किसी भी यूनिवर्सिटी की ऑफिसियल वेबसाइट से ली जा सकती है।

b.a. में कितने पेपर होते हैं

BA में 1st ईयर में कम से कम 5 सब्जेक्ट्स पढ़ते है। इनमें से 2 अनिवार्य विषय को छोड़कर बाकी विषयों के दो पेपर होते है। कुल मिलाकर बीए प्रथम वर्ष में 8 पेपर होते है।

बीए सेकंड ईयर & फाइनल ईयर में अनिवार्य विषयों के एग्जाम नहीं होते है तो इन सालों में बीए के 6 पेपर्स होते है।

अगर आप ba कर रहे है तो इसका अर्थ है कि आप arts में undergraduate course कर रहे है।

यह भी जानें: BSc क्या है कैसे करें

बीए कोर्स को कहाँ से करें

Bachelor of Arts यानि बीए को किसी भी कॉलेज से किया जा सकता है। बाहरवीं कर चुके विद्यार्थी बीए कोर्स के लिए अपने स्टेट की टॉप यूनिवर्सिटी, शहर के प्रमुख कॉलेजों या किसी क्षेत्रीय कॉलेज में admission ले सकते है। इसके अलावा स्टूडेंट्स IGNOU, VMOU जैसी ओपन यूनिवर्सिटी से distance learning के माध्यम से भी BA में एडमिशन लेकर पढ़ सकते है।

हम यहाँ भारत की टॉप बीए कॉलेज की लिस्ट दे रहे है जो NIRF 2020 सर्वे के अनुसार है।

  1. मिरांडा हाउस कॉलेज, दिल्ली यूनिवर्सिटी
  2. लेडी श्रीराम कॉलेज फॉर वुमन
  3. हिन्दू कॉलेज
  4. सेंट स्टीफन कॉलेज (प्राइवेट)
  5. प्रेज़िडेन्सी कॉलेज।

इन कॉलेज में BA 1st Year में admission Merit List के आधार पर होता है यानि 12th में स्टूडेंट के जितने ज्यादा अंक/प्रतिशत है, इन कॉलेज में एडमिशन के chances ज्यादा है। आपको बता दें कि इन कॉलेज में एडमिशन लगभग 95% के आसपास मार्क्स होने पर ही होता है।

अगर कोई स्टूडेंट बीए करने के लिए कॉलेज का चुनाव नहीं कर पा रहा है तो वो पेरेंट्स, भाई-बहनों, elders या स्कूल टीचर्स से सलाह लेकर अपने लिए बीए कॉलेज का चयन कर सकता है।

Frequently Asked Questions about BA Course

BA का Full Form क्या है

BA का फुल फॉर्म bachelor of arts है।

BA में कौन कौन सा सब्जेक्ट होता है

बीए में आर्ट्स के सभी subject होते है।

बीए कितने साल का कोर्स है

BA तीन साल का कोर्स है यानि बीए को करने में तीन साल की समयावधि लगती है

BA में कितने Semester होते है

BA में हर साल दो semester होते है और टोटल 6 semester होते है।

बैचलर ऑफ आर्ट्स का हिंदी क्या होता है

बैचलर ऑफ आर्ट्स का हिंदी अर्थ कला वर्ग में स्नातक होता है। इसे कला वर्ग में graduation भी कहते है।

BA में क्या बनते है?

BA करने से graduation होता है जिससे कई प्रकार की जॉब्स प्राप्त करने के लिए एक योग्यता मिल जाती है।

हम उम्मीद करते है कि आपको इस ‘BA Kya Hai’ आर्टिकल के माध्यम से बीए कोर्स के बारे में पूरी जानकारी मिली होगी। अगर अभी भी आपका Bachelor of Arts यानि BA से जुड़ा कोई प्रश्न है तो comments box के माध्यम से जरूर पूछें। हम आपको इससे जुड़ी हर प्रकार की सहायता उपलब्ध कराएंगे।

56 thoughts on “BA Course क्या है और कैसे करें – BA Full Form in Hindi”

  1. Bahot hi achhe se samjaya hai aap ne agar aap ki instagram I’d ho to please muje batayiye please thank you so much aap ne bahot hi achhese sab samjaya

  2. Ager ham BA me political science ko honours rakhna chahte h to inme konse subject rakhna padega
    Please bsab subject ke name bataiye

    1. Vaishnavi rathore

      Mera 1 ba start hone ja rha hai
      To me English general and Hindi general home sciences subjects le skti hu
      Baki subject kuch smj me nhi a raha hai
      Pll aap bato ki kon sa subject thik hai

  3. Ba me kitne course hota hai
    Kyunki inter science se kiye hai or
    BA arts se karna chahte hai
    Koun koun sa subject rakhna chahiye

    1. I don’t understand fully what have you written. I have doubts about how many subs are there and the name also of the subject. If I choose BA math honours then how many subjects are read?

  4. Bahot hi achhe se samjaya hai aap ne agar aap ki instagram I’d ho to please muje batayiye please thank you so much aap ne bahot hi achhese sab samjaya

  5. Mene dr. Hari sing gour university se B.A second year pass kri fir meri shaadi hone ki wajah se exam nhi de paayi
    Ab m 3rd year krna cahati hu but 3-4 saal ho gye 2nd year ko ..or hari sing gour university hamare city m h bhi nhi ab …m ab kese aage ki padhai kru …btaiye..plzz

    1. इस प्रश्न का उत्तर तो मैं भी जानना चाहता हूं प्रिय

    1. Mera b.a me subject combination nhi hai ,kya mai ek subject se 1 year me b.a kar sakti hu ,mera subject sociology, economics aur psycology tha.kar sakti hu to please bataye kaun se University se.

  6. अगर B.A pass course करते है तो UPSC में नहीं जा सकते क्या??? Sir 😐😐

        1. ओपन यूनिवर्सिटी से बीए करने पर टीसी की जरूरत नहीं रहती है.

  7. घर बैठे B.A. कैसे करें? कृपया पूरी तरह से विस्तार से बताएं

  8. 3 saal phle mene b.a first eyer ke exam diye the uske baad family meter ki vajh se me result nhi dekha ab me kese pta kru ki me fail hua pass

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *